सीएनई रिपोर्टर

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर वैज्ञानिकों द्वारा किये जा रहे दावों के बीच बड़ी ख़बर यह है कि अब देश के दो शीर्ष के वैज्ञानिक संस्थान तीसरी लहर के आगमन को लेकर एकमत नही दिखाई दे रहे हैं। जहां आईसीएमआर ने अगले माह यानी अगस्त के अंत तक इसके आने की चेतावनी जारी की है, वहीं आईआईटी कानपुर के प्रो. मणिंन्द्र अग्रवाल ने इस दावे को एक तरह से खारिज करते हुए कहा है कि तीसरी लहर अक्टूबर नवंबर से पहले नही आयेगी। अगर आयेगी भी तो इसकी तीव्रता बहुत कम रहेगी।

चलिये, पहले ICMR के डिवीजन ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड कम्युनिकेबल डिजीज के प्रमुख डॉक्टर प्रोफेसर समीरन पांडा ने जो दावा किया है, वह आपको बता देते हैं। उनका कहना है कि अगले तीन हफ्तों में यानी अगस्त के अंत तक देश में कोरोना की तीसरी लहर आ जाएगी। उनका अनुमान है कि उस दौरान हर रोज एक लाख संक्रमित मिलेंगे। यही नहीं उन्होंने कहा कि अगर वायरस का स्वरूप बदला तो स्थिति बहुत खराब होगी। ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

Big Breaking : मोबाइल में video shoot कर रहे युवक की पानी में डूबने से मौत, car सहित गढ्ढे में समा गया पुलिस कर्मी

उधर, आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर मणिंद्र अग्रवाल ने इससे उलट बयान दिया है। उन्होंने तीसरी लहर के खतरनाक होने की आशंका को खारिज किया है। उनका दावा है कि भारत hard immunity के नजदीक है। इसलिए डरने की जरूरत नहीं है। अगर तीसरी लहर आती भी है तो वह दूसरी लहर जैसी भयानक नहीं होगी।

प्रो. अग्रवाल का यह अनुमान इसलिए भी बेहद अहम है, क्योंकि इससे पूर्व कोरोना की second wave व उससे पहले के संभावित असर को लेकर किए गए उनके सभी prediction बिल्कुल सटीक साबित हुए है।

उत्तरखंड (बड़ी खबर) : देर शाम जारी हुई नई SOP, 27 तक जारी रहेगा कोविड कर्फ्यू, बिंदुवार जानिये क्या हैं नये आदेश

प्रो.मणीन्द्र के मुताबिक कोरोना से निपटने के लिए भारतीयों की इम्युनिटी अन्य देशों की तुलना में काफी बेहतर है। इसमें भी अहम बात यह है कि कोरोना के डेल्टा वैरिएंट के विरुद्ध 65 प्रतिशत इम्यूनिटी लेवल पर पहुंच चुके हैं। आने वाले कुछ दिनों के भीतर ही हम 75 प्रतिशत के आंकड़े को भी छू लेंगे जो herd immunity का मानक है, इसीलिए फिलहाल पैनिक होने की जरुरत नही है।

हालांकि दोनों प्रमुख वैज्ञानिकों की बातों में कुछ चीजों में समानता भी है। दोनों का मानना है कि कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए वक्सीनेशन सबसे बड़ा हथियार है। वहीं उनका यह भी मानना है कि अगर वायरस ने अपना स्वरूप नही बदलता तो ज्यादा डरने की जरूरत भी नही है।

Big breaking उत्तराखंड : आ गया आईएएस अधिकारियों के तबादले का आदेश, नए पदभार हुए आबंटित, पढ़िये किसको क्या मिला नवीन कार्यभार

अन्य खबरें

Top News : हां जी हां, पूरी तरह तैयार हैं कोरोना से तीसरी लहर से निपटने को हमारे अस्पताल ! operation theater में रखी मिली बियर की बोतलें, BSc पास करता मिला मरीज का इलाज

उत्तराखंड (बड़ी खबर) : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नियुक्त किये तीन और PRO

उत्तराखंड ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग में कई अधिकारियों के तबादले, देखिए लिस्ट

उत्तराखंड : बोर्डिंग स्कूल संचालक ने नाबालिग छात्रा से ​स्कूल में किया दुष्कर्म, गिरफ्तार

हेमा हत्याकांड : खुशहाल शादीशुदा जिंदगी में अवैध संबंधों को जगह देना रही बड़ी भूल ! पुलिस तफ्तीश में हुआ खुलासा, पढ़िये हत्या की पूरी वजह…

ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

Previous articleBig Breaking : मोबाइल में video shoot कर रहे युवक की पानी में डूबने से मौत, car सहित गढ्ढे में समा गया पुलिस कर्मी
Next articleTop News : हां जी हां, पूरी तरह तैयार हैं कोरोना से तीसरी लहर से निपटने को हमारे अस्पताल ! operation theater में रखी मिली बियर की बोतलें, BSc पास करता मिला मरीज का इलाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here