प्रशासन को ज्ञापन सौंपते अध्यक्ष सुशील साह, साथ में दीप डांगी

अल्मोड़ा। नगर व्यापार मंडल ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में लॉक डाउन के दौरान हुई बाजार बंदी से व्यापारियों को पहुंची आ​र्थिक क्षति पर मुआवजा देने और जीएसटी में छूट देने की मांग की है।
ज्ञापन में कहा गया है कि 22 मार्च से लॉकडाउन के घोषणा होते हुए सभी व्यापारियों ने अपने—अपने प्रति​ष्ठान बंद कर दिये थे। केंद्र सरकार के फैसले पर सभी व्यापारियों ने अपना पूर्ण सहयोग दिया। समाज में कोई भी महामारी आये या अन्य दु:ख, सबसे आगे व्यापारी वर्ग ही रहता है। उन्होंने कहा कि बंद पड़ी दुकानों से न केवल व्यापार का नुकसान हुआ, बल्कि चूहों आदि ने भी कपड़ों—जूतों की दुकानों में काफी नुकसान किया है। नगर क्षेत्र में ही करीब तीन सौ से चार सौ के बीच व्यापारी प्रभावित हुआ है। उन्होंने प्रदेश सरकार व प्रशासन से ऐसे सभी व्यापारियों को मुआवजा देने की मांग की। कहा कि छोटे व्यापारियों, जिनमें चाय वाले, पान विक्रेता, नाई, टेलर, आटोमोबाइल रिप्येरिंग आदि को हुई क्षति पर उन्हें कम से कम 5—5 हजार रूपये की तात्कालिक मदद दी जानी चाहिए। साथ ही सभी व्यापारियों को जीएसटी में भी छूट दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार व्यापारियों के प्रति संवेदनशील नही हुई तो व्यापारी कोरोना से बाद में पहले जीएसटी और व्यापार बंदी से मर जायेगा। ज्ञापन देने वालों में अध्यक्ष सुशील साह, महिला उपाध्यक्ष अनीता रावत, राजेंद्र प्रसाद, प्रत्येक्ष पांडे, मयंक बिष्ट, राहुल, अमन नज्जौन, दीप सिंह डांगी, पूर्व अध्यक्ष भैरव गोस्वामी आदि शामिल थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here