बोले, व्यापारियों के हित हो रहे प्रभावित, सुध ले प्रशासन

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: मेले के दौरान अंग्रेजों द्वारा बनाए गए नगर के एकमात्र झूला पुल से आवागमन बंद करने पर सवाल उठने प्रारंभ हो गए हैं। नागरिक मंच के प्रमोद मेहता ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा है कि ऐसा करके इस मार्ग के स्थायी दुकानदारों के यहां ग्राहक नहीं जा पा रहे हैं।

Advertisement

प्रमोद मेहता ने कहा है कि प्रशासन ने पहली बार झूला पुल को सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए बंद कर दिया जिससे इस मार्ग में मेलार्थी नहीं जा रहे हैं। कहा कि मेले के चलते इस मार्ग के दुकानदारों ने भी भारी मात्रा में सामान मंगाकर रखा था परंतु प्रशासन व मेला समिति ने इस मार्ग में आवाजाही ही रोक दी जिससे व्यापारियों का शोषण हुआ है। उन्होंने कहा कि हेलीकाप्टर सेवा बंद करने पर नुकसान का हवाला दिया जा रहा है परंतु व्यापारियों को जो नुकसान हुआ है उसकी कोई सुध नहीं ले रहा है। कहा कि पालिका व प्रशासन सुरक्षा के कारणों का हवाला देकर पुल को रोक रहा है पंरतु हेलीकाप्टर सेवा में सुरक्षा मानकों का उल्लंघन किया जा रहा है परंतु अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।
व्यापार संघ अध्यक्ष ने जताया खेद

बागेश्वर: व्यापार संघ अध्यक्ष कवि जोशी ने झूला पुल को बंद करने पर सवाल उठाते हुए कहा कि इससे व्यापारियों को अहित हुआ है उन्होंने खेद व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें अफसोस है कि वे इस दिशा में व्यापारियों के हित के लिए आवाज नहीं उठा पाए।
सुरक्षा कारणों से पुलिस बंद: डीएम

बागेश्वर: जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने झूला पुल बंद होने के बाबत कहा है कि लोक निर्माण विभाग की तकनीकी रिपोर्ट को देखते हुए सुरक्षा कारणों से पुल को बंद किया है। सुरक्षा के मानकों के साथ किसी प्रकार का खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here