अल्मोड़ाउत्तराखंड

प्रशिक्षण: मशरूम उत्पादन आय अर्जन का बेहतर साधन-सांसद, अल्मोड़ा जिला सहकारी बैंक सभागार में प्रशिक्षण शिविर

अल्मोड़ा, 16 अगस्त। अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ क्षेत्र के सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय टम्टा ने कहा है कि देश का हर नागरिक आत्मनिर्भर बने और यही आह्वान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का है। उन्होंने कहा कि मशरूम की खेती भी काफी हद तक कई परिवारों को आत्मनिर्भर बना सकती है। श्री टम्टा रविवार को यहां जिला सहकारी बैंक सभागार में आयोजित मशरूम उत्पादन प्रशिक्षण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। यह कार्यक्रम मौसमी फल एवं सब्जी क्रय विक्रय सहकारी संघ लिमिटेड अल्मोड़ा के तत्वाधान में चला। जिसमें अल्मोड़ा शहर और आसपास के गांवों के लोगों ने हिस्सा लिया।
सांसद अजय टम्टा ने कहा कि आज भारत रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन रहा है। भारत इतना मजबूत हो चुका है कि पूरी दुनिया कोरोना की वैक्सीन के लिए भारत की तरफ देख रही है। उन्होंने मशरूम उत्पादन को आय का एक अच्छा जरिया बताया और कहा कि मशरूम उत्पादन योजना को सफल बनाने के लिए सरकार पूरी मदद करेगी। जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष ललित लटवाल ने कहा कि सहकारी बैंक के माध्यम से मशरूम उत्पादन सहित ऐसे ही अन्य कार्यों के लिए लोन की सुविधा दी गई है। मशरूम कमाई का एक ऐसा जरिया है, जिसमें सुबह-शाम मात्र दो घंटे कार्य करते ही अच्छी आय प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण बाहर से लौटे युवाओं के लिए स्वरोजगार का यह एक अच्छा साधन है। जिला सहकारी बैंक के जनरल मैनेजर नरेश चन्द्र ने इस मुहिम में कंधे से कंधा मिलाकर चलने की बात कही। जिला सहकारी बैंक के डायरेक्टर विनीत बिष्ट ने भी विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन प्रेम लटवाल ने किया।
प्रशिक्षण शिविर में डीआरडीओ के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. पीएस नेगी ने प्रशिक्षण दिया। जिसमें मशरूम उत्पादन का तरीका और इससे आय अर्जित करने की प्रक्रिया समझाई। कार्य्रकम में हरीश कनवाल, हरीश रावत, विनोद लटवाल, मदन बिष्ट, राजेन्द्र बिष्ट, रविन्द्र खोलिया, गणेश सिह बिष्ट, अर्जुन सिंह, तुलसी देवी, खष्टी देवी, विमला लटवाल, मंजू कनवाल, कमला भंडारी, भगवती देवी, जगदीश बिष्ट, सुंदर अधिकारी, सूरज बोरा, सावित्री कनवाल, बिशन सिह आदि कई लोग शामिल हुए।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!