सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
उत्तराखंड क्रांति दल व राज्य आंदोलनकारियों ने आज गांधी पार्क चैघानपाटा अल्मोड़ा में सर्वप्रथम जयंती पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को याद किया। इसके बाद मुजफ्फरनगर कांड के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि उत्तराखंड के इतिहास में यह दिन काले दिवस के रूप में जाना जाता है, क्योंकि इस दिन उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों पर बर्बरता बरती गई थी।

वक्ताओं ने कहा कि आज ही के दिन मुजफ्फरनगर रामपुर तिराहे पर राज्य आंदोलनकारियों पर तत्कालीन उत्तर प्रदेश पुलिस के बर्बर गोली कांड किया था और राज्य आंदोलनकारियों पर बर्बरता बरती थी। इसलिए उत्तराखंड के इतिहास में इस दिन को काले दिवस के रूप याद किया जाता है। वक्ताओं ने इस अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बताया कि इतने बड़े कांड के दोषी पुलिस कर्मियों, पुलिस अधिकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों को कानून व न्याय व्यवस्था आज तक दंडित नहीं कर पाई। इस कारण आज भी सच्चा उत्तराखंडी शर्मिंदगी महसूस करता है। कार्यक्रम मंे जिला संयोजक गोपाल मेहता ब्रहमानंद डालाकोटी, महेश परिहार, शिवराज बनौला, गिरीश नाथ गोस्वामी, दिनेश जोशी, बसन्त बल्लभ जोशी, पूरन सिंह बनौला, गोपाल गैडा, कैलाश राम, मदन राम, सन्तोष बनौला आदि लोग उपस्थित थे।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here