ऋषिकेश। एम्स चिकित्सालय के इमरजेंसी वार्ड की एक इंटन में कोरोना का पुष्टि होने के बाद इमरजेंसी को बंद करके पूरे वार्ड को सैनेटाइजेशन किया जा रहा है। इस दौरान कोविड इमरजेंसी में मरीजों को शिफ्ट किया जा रहा है। नए केस भी यहीं देखें जाएगें। एम्स के डीन प्रो. यूबी मिश्रा ने बताया कि इंर्टन जिस हॉस्टल में रहती थी उसे भी सैनेटाइल किया जा रहा है। उसके संपर्क में आए लोगों की लिस्ट तैयार कर ली गई है उनकी मेडिकल जांच की जा रही है। सभी के सैंपल भी रिपोर्ट के लिए भेजे गए हैं। संभवत: यह रिपोर्ट कल शाम तक आ जाएगी। उन्होंने बताया कि इंटर्न सैनेटाइजेशन के कारण इमरजेंसी को 24 घंटे के लिए बंद किया जाएगा। तब तक कोविड इमरजैंसी खुली रहेगी। यहां कोरोना के अलावा दूसरे मरीजों का भी इलाज किया जाएगा।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here