लखनऊ/देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दो दिवसीय लखनऊ दौरे पर रहे, इस दौरान उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ दोनों राज्यों के बीच परिसंपत्ति विवाद को लेकर बैठक की। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद उत्तर प्रदेश ने अभी तक उसे पूरी परिसंपत्तियां ट्रांसफर नहीं की है। गुरुवार को हुई बैठक में मुख्यमंत्री धामी और मुख्यमंत्री योगी ने कई लंबित मुद्दे पर चर्चा की। वहीं मुख्यमंत्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, मुख्य सचिव एसएस संधू और सचिव पुनर्गठन रंजीत सिन्हा भी लखनऊ में मौजूद रहे। दोनों नेताओं के बीच करीब 30 मिनट तक बैठक हुई।

सीएम धामी ने कहा कि यूपी-उत्तराखंड के बीच छोटे-बड़े भाई जैसा सम्‍बन्‍ध है। उन्‍होंने कहा कि सीएम योगी ने बहुत सहृदयता से धरातल की वास्‍तविकताओं को ध्‍यान में रखते हुए विवादों के निपटारे पर अपनी सहमति दी। उन्‍होंने बताया कि दोनों राज्‍यों का ज्‍वाइंट सर्वे होगा। इसके बाद यूपी के काम की सारी जमीन जिमसें 1700 मकान भी शामिल हैं, यूपी को दे दी जाएगी। जीर्ण-शीर्ण अवस्‍था में पहुंच गए उत्तराखंड के दो बैराज (वनबसा और किच्‍छा) का पुनर्निर्माण यूपी सरकार कराएगी। यूपी सरकार, उत्तराखंड परिवहन निगम को 205 करोड़ रुपए का भुगतान करेगी।

उत्तराखंड : घर में चल रही थी सगाई की तैयारी, सेना के जवान ने फंदा लगा कर ली आत्महत्या


आवास-विकास की देनदारियों का भुगतान को दोनों राज्‍यों द्वारा 50-50 प्रतिशत साझेदारी के आधार पर किया जाएगा। इसके अलावा हरिद्वार स्थित अलकनंदा होटल एक महीने के अंदर उत्तराखंड को हैंडओवर हो जाएगा। किच्‍छा बस स्‍टैंड की जमीन उत्‍तराखंड को स्‍थानांतरित होगी। उत्तर प्रदेश सरकार उत्तराखंड वन विभाग को 90 करोड़ रुपए देगी। इसके अलावा थौरा बैकुंठनानक सागर गंग नहर में वॉटर स्‍पोर्ट्स और साहसिक पर्यटन की भी अनुमति मिल गई है। सीएम धामी ने दावा किया कि 21 साल से दोनों राज्‍यों के बीच जितने विवाद चले आ रहे थे, उन सबका निपटारा कर लिया गया है।

एक अनुमान के मुताबिक यूपी-उत्तराखंड के बीच करीब 20 हजार करोड़ की परिसम्‍पत्तियों से लेकर जुड़े विवाद का गुरुवार को निपटारा हो गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी लखनऊ में गोमती नदी के तट पर नौ नवंबर से शुरू हुए उत्तराखंड महोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।

उत्तराखंड में कोरोना को लेकर एक बार फिर सख्ती, मास्क पहनना अनिवार्य, 6 फीट की सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी – पढ़ें आदेश

Uttarakhand : यहां रिश्तेदार के अंतिम संस्कार से लौट रहे तीन दोस्तों की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here