सांकेतिक फोटो

सीएनई रिपोर्टर, हल्द्वानी

यहां महिला अस्पताल में भर्ती एक प्रसूता की स्वस्थ बालक को जन्म देने के महज 15 से 20 मिनट में मौत हो गई। महिला की मौत के बाद उसके परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल पर जमकर हंगामा काटा। इस दौरान परिजनों की चिकत्सकों के साथ कहासुनी भी हुई और अस्पताल परिसर में तोड़फोड़ भी की गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यहां मंगल पड़ाव स्थित महिला अस्पताल में जौहार नगर निवासी सौफिया उम्र 25 साल पत्नी वासिफ खान को प्रसव पीड़ा होने पर लाया गया था। आज लेबर पेन होने पर चिकित्सक उसे ओटी में डिलीवरी के लिए ले गये। इस दौरान महिला ने एक स्वस्थ बालक को जन्म दिया। जिसके बाद परिजन खुशियां मना ही रहे थे कि अचानक महिला की सांस तेज चलने लगी। इस दौरान चिकित्सक उसे देखने को आ पहुंचे, लेकिन महज 15 से 20 मिनट में उसने दम तोड़ दिया। News WhatsApp Group Join Click Now


नजदीक हैं चुनाव, यूपी से हो रही उत्तराखंड में हथियारों की सप्लाई ! एसटीएफ के हत्थे चढ़ा तस्कर, पढ़िये पूरी ख़बर…

घटना के बाद महिला के साथ आये परिजनों के गुस्से का पार चढ़ गया। उन्होंने महिला की मौत के लिए चिकित्सकों को जिम्मेदार ठहराते हुए जमकर हंगामा काटा। चिकित्सकों का आरोप है कि परिजनों द्वारा परिसर में तोड़—फोड़ भी की गई। बवाल की सूचना मिलने पर कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश भी घटना की जानकारी लेने अस्पताल आ पहुंचे। पुलिस भी मौके पर आई और परिजनों को समझा—बुझा कर शांत किया गया। आखिरकार एक लंबी जद्दोजहद के बाद हंगामा कर रहे परिजन मान गये और शव को अपने साथ लेकर अस्पताल से चले गये।

हल्द्वानी ब्रेकिंग : यहां आवासीय भवन में चल रहा था अस्पताल, प्रशासन ने किया सील

बताया जा रहा है कि महिला की आज रात 8 बजकर 20 मिनट मौत हो गई। जिसके बाद बवाल शुरू हो गया। महिला की डिलीवरी कराने वाले चिकित्सकों में ईएमओ डॉ. लता पांगती ने आपरेशन किया, जबकि डॉ. संदीप पांगती व डॉ. पवन द्विवेदी उनके साथ थे। इधर चिकित्सकों का कहना है कि महिला की डिलीवरी के दौरान किसी किस्म की लापरवाही नही बरती गई है। उन्होंने परिजनों द्वारा लगाये गये आरोपों को निराधार बताया है। News WhatsApp Group Join Click Now

रूद्रपुर ब्रेकिंग : यहां छत से गिरकर 28 वर्षीय युवक की मौत

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here