स्टंट बाइकिंग
स्टंट बाइकिंग, Demp Pic

✒️ ब्लागर्स के सोशल मीडिया अकाउंट पर पुलिस की नजर

सोशल मीडिया के बढ़ते क्रेज के बीच उत्तराखंड में भी अब ब्लागरों और यूट्यूबर्स (Youtubers) की भीड़ हो गई है। इनमें से कुछ ब्लॉगर ऐसे भी हैं, जो अपनी उटपटांग हरकतों व बयानबाजी के चलते खासे चर्चा में रहते हैं। स्टंट बाइकिंग करने वाले कुछ नव युवकों के सोशल मीडिया अकाउंट पर उत्तराखंड पुलिस विशेष नजर रख रही है। आरोप है कि इस तरह के ब्लॉगर खुलेआम सड़कों पर यातायात नियमों की धज्जियां उड़ाते हैं। इनकी स्टंटबाजी कभी भी किसी बड़े हादसे का कारण बन सकती है। अतएव पुलिस ने चेतावनी दी है कि यदि ऐसी हरकते करते यह ब्लॉगर पाये गये तो इन पर सीधे 03 लाख का जुर्माना लगा दिया जायेगा।

बता दें कि देहरादून में पुलिस ने सोशल मीडिया पर वीडियो अपलोड करने वाले करीब 10 यूट्यूबर्स को चिन्हित किया है। यह लोग स्टंट बाइकिंग करते वीडियो में देखे जा सकते हैं। इस बारे में पुलिस अधीक्षक यातायात अक्षय प्रह्लाद कोंडे ने सोशल मीडिया में यातायात नियमों को अनदेखा करते हुए स्टंट बाइकिंग की वीडियो अपलोड करने वालों पर पुलिस नजर बनाये है। ऐसे ब्लॉगरों को सीआरपीसी की धाराओं में मुचलका पाबंद किया जाएगा।

Advertisement

06 माह तक उनके ऊपर यह शर्त लागू रहेगी। इस दौरान यदि उन्होंने गलत वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड की तो उनके खिलाफ सीआरपीसी की धारा 110 के 03 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। बकायदा ऐसे ब्लॉगरों की निगरानी करने के लिए आधे दर्जन लोगों की टीम भी बनाई गई है। यातायात पुलिस व सीपीयू को इसको लेकर विशेष रूप से चौकस रहने की हिदायत भी दी गई है।

ज्ञात रहे कि सड़कों पर धमाल मचाने, जहां-तहां डांस करने और बेकार किस्म की हरकतें करते Youtubers अकसर अब उत्तराखंड के तमाम जनपदों में देखे जा सकते हैं। अपने साथियों के बीच धाक जमाने और आसानी से कुछ पैसा कमाने की चाह इन युवाओं को इस ओर खींच रही है। इनमें बहुत से कम उम्र लड़के और लड़कियां भी शामिल हैं। लड़कों में स्टंट बाइकिंग का क्रेज है, जबकि लड़कियां रील्स आदि बनाने के लिए डांस आदि करती हैं।

आरोप है कि कई महिला ब्लागर रील्स बनाने के नाम पर अश्लील डांस या हरकत करते भी देखी जाती हैं। हालांकि उत्तराखंड पुलिस को इन यूट्यूबर्स से कोई दिक्कत नहीं है। जब तक कि वह कानून का अनुपालन करते हुए कुछ भी करें। इसके बावजूद यदि किसी यूट्यूबर द्वारा कुछ ऐसा किया जाता है जिससे समाज में गलत संदेश जाये और कानून-व्यवस्था भंग हो तो इसके लिए दंडात्मक कार्रवाई का प्रावधान भी है।

Read Also – शिक्षा के मंदिर में घुस आये चोर चढ़े पुलिस के हत्थे

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here